देखें Video: ADGP शुक्ला का टारगेट किलर पर बड़ा ब्यान, 1 करोड़ रुपए के साथ सरकारी नौकरी व थानामुखी के तबादले पर बनी लोगो की सहमति, देर शाम खुला जाम, और भी कई जानकारी के लिए पढ़ें समाचार।

[google-translator]

The Target News

नंगल । राजवीर दीक्षित

पंजाब के नंगल में विहिप के प्रधान विकास बग्गा की गोली मारकर हत्या करने के बाद लगाए गए राज्यमार्ग पर सुबह से जाम को देर शाम प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन के बाद खोल दिया गया है।

➡️ पंजाब के ADGP अर्पित शुक्ला ने टारगेट किलिंग को लेकर सुने क्या कहा,इस Link को Click करें।

मानी गई शर्तो में मृतक परिवार को 1 करोड़ रुपए व सरकारी नौकरी के साथ साथ लापरवाही दिखाने वाले थानामुखी का तबादला व डी एस पी स्तर के अधिकारी की पक्के तौर पर तैनाती की गई है।

एडीजीपी अर्पित शुक्ला ने नंगल पहुंच आश्वस्त किया है कि टारगेट किलिंग में मारे गए विकास बग्गा के हत्यारों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। इस काम मे स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम अपना काम कर रही है।

➡️ नंगल धरने में में पहुंचे भाजपा के प्रदेश अध्य्क्ष सुनील जाखड़, Video देखने के लिए इस लिंक को Click करें

उधर एसएसपी गुलनीत सिंह खुराना ने जानकारी देते बताया है कि नंगल के थानामुखी का तुरंत प्रभाव से तबादला कर दिया गया है।

इसके साथ साथ यहां एक डीएसपी मंजीत सिंह की पक्के तौर पर नियुक्ति की गई है। उन्होंने एक अपराधी की फ़ोटो जारी कर उसका पता बताने वाले को 1 लाख रुपये नगद इनाम की घोषणा भी की है।

➡️ नंगल ऊना राजमार्ग जाम, शहर में तनाव Video देखने के लिए इस Link को Click करें

आज लगाये गए राज्यमार्ग पर जाम के दौरान पहुंचे पूर्व कैबिनेट मंत्री मदन मोहन मित्तल, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़, जिला भाजपा प्रधान अजयवीर लालपुरा, जिला योजना बोर्ड के पूर्व चैयरमेन डॉ परमिंदर शर्मा, नंगल नगर कौंसिल के चैयरमेन संजय साहनी, राजेश चौधरी, डॉ रविंदर दिवान आदि ने विकास बग्गा की मौत को सरकार की बड़ी विफलता बताया है।

आपको बता देें आज सारा दिन डीआईजी निलाम्बरी जगदले, एडीसी पूजा स्याल लगातार धरना लगाने वाले लोगों से बात करती रही व उन्होंने सारी जानकारी सरकार तक पहुंचाई है।

मानी गई शर्तो में अब मृतक परिवार को एक करोड़ रुपए के साथ साथ विकास बग्गा की धर्मपत्नी को सरकारी नौकरी देने पर सहमति का ड्राफ्ट तैयार किया गया व पत्र चीफ सेक्टरी पंजाब को भेजा गया है जहां से इसे चुनाव आयोग के पास भेज कर मंजूरी ली जाएगी।