श्री आनंदपुर साहिब से भगौड़ा हुए मनीष तिवारी: चंडीगढ़ से लड़ेंगे चुनाव कांग्रेस ने पूर्व मंत्री पवन बंसल का टिकट काटा, The Target News की खबर सच हुई।

[google-translator]

The Target News

चंडीगढ़ । राजवीर दीक्षित

‘द टारगेट न्यूज’ की खबर सच हो गई है। हम बार बार लिख रहे थे कि मनीष तिवारी श्री आनंदपुर साहिब से चुनाव नही लड़ेंगे जो कि सच हुआ।

कांग्रेस ने उन्हें चंडीगढ़ लोकसभा सीट पर उम्मीदवार बनाया है। यहां से पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल का टिकट काट दिया गया है। श्री आनंदपुर साहिब से चुनावी मुकाबले में भगोड़े हुए मनीष तिवारी का मुकाबला भाजपा के कदावर नेता संजय टंडन से होगा।

संजय टंडन चंडीगढ़ से लोकल है व वह भाजपा नेता बलराम जी दास टण्डन के पुत्र भी है।

नंगल सनातन धर्म संस्था की और से नवरात्रों के उपलक्ष्य में शोभा यात्रा का आयोजन, Video देखने के लिए इस लिंक को क्लिक करें

अब मनीष तिवारी ने बदले तेवर खुद को बताया लोकल

श्री आनंदपुर साहिब लोकसभा क्षेत्र में 5 साल न आने वाले व अख़बारों में खुद की गुमशुदा की सुर्खियां तक बनाने वाले सांसद मनीष तिवारी खुद को चंडीगढ़ का लोकल बताते हैं।

तिवारी का कहना है कि उनके पिता पंजाब यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर और लेखक रह चुके हैं। वहीं, उनकी माता चंडीगढ़ PGI की डायरेक्टर रही हैं। उनकी पूरी पढ़ाई चंडीगढ़ शहर में ही हुई है।

पार्टी को यह भी लगता है कि चंडीगढ़ में पढ़ाई के दौरान जितने भी दूसरी पार्टियों के नेता हैं, उनके साथ मनीष तिवारी की मुलाकात थी, और वह उनके दोस्त थे। इसलिए लिए पार्टी ने चंडीगढ़ से तिवारी को टिकट देने का जोखिम उठाया है।