गणतंत्र दिवस पर CM भगवंत मान ने दी ये खुशखबरी, पंजाबियों के लिए इसलिए खास है रिपब्लिक-डे ➡️ न्यूज Link न खुलने पर पहले 92185 89500 नम्बर को फोन में save कर लें।

18

0

Target News

लुधियाना । राजवीर दीक्षित

पंजाब के सीएम भगवंत मान ने आज 26 जनवरी को पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी (पी.ए.यू) के ग्राउंड में गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराया।

इस दौरान सीएम ने परेड से सलामी ली। इस दौरान सीएम मान ने कहा कि रिपब्लिक-डे पंजाब के कारण आया।

लड़ाइयां लड़ी व शहादतें दीं, फिर जाकर रिपब्लिक-डे आया। इसलिए हम रिपब्लिक-डे खास तौर पर मनाते हैं।

सीएम भगवंत मान ने इस दौरान पहली बार सार्वजनिक तौर पर पत्नी डॉ. गुरप्रीत कौर के प्रेग्नेंट होने की बात कही।

सीएम ने कहा कि वे 7 महीने की प्रेग्नेंट है और मार्च महीने में उनके घर खुशियां आएंगी।

लेकिन आज तक उन्होंने टेस्ट नहीं करवाया। वे चाहते हैं, जो भी उनके घर आए स्वस्थ आए।

वहीं, सीएम पंजाब की झांकियों को राजपथ पर न दिखाने के फैसले पर भी भडक़े।

उन्होंने कहा कि चाहे कूका लहर हो, अकाली लहर हो, पगड़ी संभाल जट्टा, कामागाटा मारु हो, ये सभी लहरें पंजाब से चलीं।

इसलिए ये पंजाब के लिए खास है। लेकिन, दुख की बात है कि 25 जनवरी, 15 अगस्त को पंजाब की झांकियां निकाल दी जाती हैं। ये झांकियां हैं, बताएं क्या गलत लिखा है।

पंजाब को निकाल कर कैसे आजादी दिवस मना लो गे। अगर, ये झांकियां डाल लेते तो आपकी इज्जत बढ़ जानी थी।

सीएम मान ने कहा कि आज का दिन इसलिए खास नहीं तो अंग्रेजों की गुलामी के बीच कितनी ही 26 जनवरी चली गई थी, पंजाबियों ने लड़ाइयां लड़ी है, शहादत दी फिर कहीं जाकर रिपब्लिक-डे आया है। इसलिए पंजाब रिपब्लिक-डे को खास तौर पर मनाता है। लेकिन दुख की बात है कि देश की 15 अगस्त और

26 जनवरी की परेड से पंजाब की झांकियों को शामिल नहीं किया जाता।

सीएम ने झांकियों की तरफ इशारा करते हुए कहा कि आप सबके सामने वो झांकियां खड़ी हई है, क्या इस पर कुछ गलत लिखा हुआ है आप सब बताएं।

हमारे भगत सिंह, करतार सिंह सराभा, हमारे राजगुरु सुखदेव की इज्जत नहीं घटनी लेकिन 26 जनवरी को ये झांकियां शामिल कर लेते तो आपकी 26 जनवरी की इज्जत और बढ़ जानी थी।

‘पूरे देश का पेट भरता है पंजाब’

सीएम मान ने आगे कहा कि पंजाब सारे देश का पेट भरता है। 182 लाख मीट्रिक टन चावल पैदा करता है पंजाब, जिसकी वजह से हमारे प्रदेश में पानी भी 650 फीट नीचे चला गया।
फिर भी हमारे साथ लड़ाइयां लड़ी जाती है। कभी एमएसपी, कभी किसी और चीज को लेकर।
पंजाब का 532 किलोमीटर का एरिया बॉर्डर से लगता है वहां से कभी ड्रोन, कभी हथियार तो कभी ड्रग्स आती है उधर भी हमें ध्यान देना पड़ता है। ऐसे हालात पैदा मत कीजिए कि हमें अपना अपने आप ही देखना पड़े।

संसद में मुद्दा उठाने पर खन्ना के शहीद को मिला सम्मान

मैं कल खन्ना के पास शहीद के घर 1 करोड़ का चेक लेकर गया।

इससे पहले मौड़ मंडी गया, वहां कोई सलामी नहीं दी। कह रहे थे कि अग्निवीर को आर्मी वाले सलामी नहीं देते।

जिसके लिए केंद्र को लिखा, संसद में मुद्दा उठाया। इसके बाद खन्ना के शहीद को सम्मान दिया गया। हैरानी की बात है कि छाती पर गोलियां खाने वाले को ये 11 गोलियों की सलाामी नहीं दे सकते।

97 लाख लोगों ने मोहल्ला क्लीनिक से ली दवा

पंजाब में मोहल्ला क्लीनिक खोले गए। 97 लाख लोग मोहल्ला क्लीनिक से दवा लेकर घर जा चुके हैं। स्कूल बना रहे हैं, स्कूल ऑफ एमिनेंस खुल रहे हैं।

अरविंद केजरीवाल ने काम की राजनीति को शुरु किया। सफलता मिल रही है। हमने यहां पंजाब में इसे अप्लाई किया।

हमने भ्रष्टाचार के खिलाफ फोन नंबर जारी किए। मैं नहीं कहता ये खत्म हो गया, लेकिन कम हुआ है। लुधियाना इंडस्ट्री का हब है।

65 हजार करोड़ की इन्वेस्टमेंट पंजाब में आई

पंजाब में पॉलिसियां आसान की। 65 हजार करोड़ की इन्वेस्टमेंट पंजाब में आई। इससे 2.98 लाख युवाओं को रोजगार मिलेगा।

कल सडक़ सुरक्षा फोर्स की शुरुआत हो रही है। सडक़ दुर्घटनाओं में परिवार के परिवार खत्म हो जाते हैं।
खड़े ट्रक से गाड़ी टकराई, मौतें हो जाती हैं। अगर हम आधा भी सफल हो जाएं तो 3000 पंजाबियों की जान बचा लेंगे।

पंजाबी हाथ बांधते नहीं, हमेशा ऊंचा रखते हैं

हमारा राज्य नंबर 1 था, वही बनेगा। क्योंकि ईमानदारी से काम कर रहे हैं। मुझे अगले चुनाव की फिक्र नहीं, अगली जेनरेशन की चिंता है।

मैं चाहता हूं ये जॉब सीकर न बने, ये जॉब देने वाले बनें। कहा कि खोलो फैक्ट्रियां, स्टार्ट अप करो, मैं साथ खड़ा हूं। जब जनता खुश तो सब ठीक।

इन्होंने जानबूझ कर सभी को गरीब रखा है, ताकि सभी उनके घरों के आगे हाथ बाांध कर खड़े रहें। पंजाबी हांथ बांधते नहीं, हमेशा ऊंचा रखते हैं।

शहीद भगत सिंह का हाथ हमेशा ऊंचा रहता है। राम मंदिर बना, सभी को जाना चाहिए। हमारी लोहड़ी, वैसाखी, दिवाली सांझी है।

रमजान को कहा जाता है कि वे मुस्लिमों का त्योहार है। अंग्रेजी में लिखो पहले तीन अक्षरों में RAM होता है।

दिवाली कहते हैं हिंदुओं का त्योहार है, और आखिरी तीन अक्षर ALI मुस्लिम गुरुओं का नाम है। हमें कोई एक दूसरे से अलग नहीं कर सकता।

जहां जाना चाहते हो जाकर आओ। ट्रेनों की दिक्कत दूर हो गई है। सभी जाकर आओ। धर्म जाति की राजनीति नहीं हमने काम की राजनीति करनी है।

The Target News के Whatsapp ग्रुप में शामिल हों, फेसबुक, यू-ट्यूब, इंस्टाग्राम पर Page को Like OR Follow करें।