प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में गए 90 छात्रों को सजा पर भड़क गए हिंदू संगठन, जांच कमेटी गठित, HOD भेजा छुट्टी पर ➡️ न्यूज Link न खुलने पर पहले 92185 89500 नम्बर को फोन में save कर लें।

15

0

Target News

शिमला । राजवीर दीक्षित

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर में श्रीराम लला प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल होने पर कॉलेज ने 90 छात्रों पर जुर्माना लगा दिया। जिसको लेकर अब हिंदू संगठन भड़क गए हैं। जिन्होंने कॉलेज पहुंचकर गेट पर प्रदर्शन शुरू कर दिया।

हिमाचल ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट कॉलेज प्रबंधन ने छात्रों को ढाई-ढाई हजार रुपए जुर्माना भरने को कहा गया है। छात्रों को धमकी दी गई कि जुर्माना न भरा तो कॉलेज से निकाल देंगे।

बवाल बढ़ते ही स्थानीय प्रशासन भी हरकत में आ गया और जांच शुरू कर दी गई है। जिसके बाद जुर्माना लगाने वाले कॉलेज के विभाग मुखी (HOD) को जबरन छुट्‌टी पर भेजा दिया गया है।

गौरतलब है कि अयोध्या में श्रीराम लला के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के लिए हिमाचल सरकार ने सभी सरकारी दफ्तरों व शिक्षण संस्थानों में छुट्टी घोषित कर दी थी।

 देखें Video: हरियाणा के भिवानी में एक ‘रामलीला’ प्रदर्शन में हनुमान की भूमिका निभाते समय हरीश मेहता नाम के एक व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ा और मंच पर ही उनकी मृत्यु हो गई।

यह जानकर इस कॉलेज के स्टूडेंट्स भी स्थानीय प्राण प्रतिष्ठा से जुड़े कार्यक्रम में चले गए। मगर, इस फॉर्मेसी कॉलेज ने सरकार की छुट्टी के आदेशों को नजरअंदाज कर छुट्‌टी नहीं की थी। जिसके बाद जो स्टूडेंट्स 22 जनवरी को कॉलेज नहीं आए, उन्हें फाइन लगा दिया।

कॉलेज मैनेजमेंट पर आरोप है कि उन्होंने इन स्टूडेंट्स को सजा के तौर पर क्लासरूम के बाहर खड़ा कर दिया। उन्हें चेतावनी दी गई कि जुर्माना न भरा तो कॉलेज से निकाल दिया जाएगा। कॉलेज प्रबंधन ने स्टूडेंट्स पर बिना बताए क्लास बंक करने का आरोप लगाया है।

पुलिस और प्रशासन कॉलेज पहुंचा कॉलेज में हंगामा होते ही पांवटा के DSP और तहसीलदार ने आक्रोशित लोगों को समझाकर मामला शांत किया।

उन्हें भरोसा दिया कि जांच रिपोर्ट आने पर कार्रवाई की जाएगी। पांवटा साहिब के तहसीलदार ऋषभ शर्मा ने बताया कि मामले की जांच के लिए कॉलेज की इंटरनल कमेटी गठित की गई है।

कमेटी की जांच रिपोर्ट आने के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि कॉलेज के HOD अमरीक सिंह को जांच पूरी होने तक छुट्टी पर भेज दिया गया है।

The Target News के Whatsapp ग्रुप में शामिल हों, फेसबुक, यू-ट्यूब, इंस्टाग्राम पर Page को Like OR Follow करें।