Sidhu को झटका: कांग्रेस हाईकमान ने लिया ये एक्शन, पढ़ें ➡️ न्यूज Link न खुलने पर पहले 92185 89500 नम्बर को फोन में save कर लें।

20

0

Target News

नई दिल्ली । राजवीर दीक्षित

पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमरेन्द्र सिंह राजा वाडि़ंग ने पार्टी के दो नेताओं महेशिंदर सिंह और उनके बेटे धर्मपाल सिंह को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है।

उन्होंने एक रैली आयोजित की थी और इस रैली को मोगा जिले में पार्टी नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने संबोधित किया था।

पार्टी को इसकी सूचना नहीं देने को लेकर दोनों नेताओं को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था। रैली के छह दिन बाद शनिवार को उन्हें पार्टी से बाहर कर दिया गया।

पंजाब कांग्रेस ने 21 जनवरी को रैली के बारे में जानकारी नहीं देने के लिए महेशिंदर सिंह और उनके बेटे को कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

उनसे दो दिनों के भीतर जवाब देने को कहा गया था। दोनों नेताओं को चेतावनी दी गई थी कि ऐसा नहीं करने पर उन्हें अनुशासनात्मक कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा।

कांग्रेस के मोगा प्रभारी मालविका सूद सच्चर ने प्रदेश नेतृत्व को शिकायत की थी, जिसके बाद दोनों नेताओं पर एक्शन हुआ है।
मोगा सीट से 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव लडऩे में असफल रहे सच्चर ने पार्टी कार्यकर्ताओं से रैली में शामिल नहीं होने के लिए भी कहा था।

कारण बताओ नोटिस जारी होने के बाद सिद्धू, महेशिंदर और उनके बेटे के समर्थन में सामने आए थे।

उन्होंने अपने एक्स पोस्ट में कहा था-‘निहाल सिंह वाला परिवार के साथ खड़े रहेंगे, चाहे कुछ भी हो। तीसरी पीढ़ी के कांग्रेस परिवार की जड़ें सबसे पुरानी पार्टी – जड़ के बिना कोई फल नहीं हो सकता।’

कई कांग्रेस नेताओं ने पार्टी से सिद्धू पर लगाम लगाने की मांग की थी। इस महीने की शुरुआत, में वाडि़ंग ने इस बात पर जोर दिया था कि पार्टी के कार्यक्रम राज्य इकाई प्रमुखों से विचार के बाद आयोजित किए जाने चाहिए।

यह मामला पार्टी के पंजाब मामलों के प्रभारी देवेन्द्र यादव तक भी पहुंच गया था, जब वह पंजाब के तीन दिवसीय दौरे पर थे।

सिद्धू ने तब यह भी कहा था कि अनुशासन का मतलब अलग-अलग लोगों के लिए अलग-अलग चीजें नहीं होना चाहिए। अब तक, सिद्धू ने चार रैलियां की हैं – दो बठिंडा में और एक होशियारपुर और मोगा में।

The Target News के Whatsapp ग्रुप में शामिल हों, फेसबुक, यू-ट्यूब, इंस्टाग्राम पर Page को Like OR Follow करें।