गर्दन में गोली मारकर की हत्या: पंजाब पुलिस के अर्जुन अवार्डी डीएसपी दलबीर दयोल की मौत के मामले में बड़ा खुलासा ➡️ न्यूज Link न खुलने पर पहले 92185 89500 नम्बर को फोन में save कर लें।

27

0

Target News

चंडीगढ़ । राजवीर दीक्षित

पंजाब पुलिस के डीएसपी दलबीर सिंह दयोल की मौत के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। डीएसपी दयोल की गर्दन में गोली लगी है।

सूत्रों ने बताया कि गोली डीएसपी की गर्दन में फंसी है। इस खुलासे ने कमिश्नरेट जालंधर पुलिस की लापरवाही की पोल खोल दी है। ये भी पता चला है कि गोली 9 एमएम वेपन की है।

इसी बीच पुलिस ने इस मामले में चुप्पी साध ली है। सभी अधिकारी बात करने से बच रहे हैं। दोपहर बाद तक एक्सीडेंट मान कर कार्रवाई कर रही पुलिस अब हत्या का केस दर्ज करने की तैयारी कर रही है।

Video : हिमाचल में केसीसी बैंक की शाखाएं होंगी बंद, दुबई से आए व्यक्ति के पास से मिला 67 लाख का सोना, कनाडा में मंदिर प्रधान पर फिर हमला

बता दें कि आज सुबह डीएसपी दलबीर सिंह का शव बस्ती बावा खेल नहर के निकट मिला। थाना नंबर 2 की पुलिस ने शव अस्पताल मुर्दाघर में रखवा दिया।

अस्पताल में डेड बॉडी रखने के समय तक पुलिस को जानकारी नहीं थी कि शव पंजाब पुलिस के डीएसपी का है।

पुलिस अधिकारियों द्वारा बाद तक अधिकारिक ब्यान देते रहे कि मामला एक्सीडेंट का लग रहा है। लेकिन देर शाम बड़ा खुलासा हुआ है कि मृतक डीएसपी दलबीर सिंह की मौत गोली लगने से हुई है।

ये भी पता चला है कि घटनास्थल से भी पुलिस को भी गोली के दो खोल बरामद हुए हैं। इस तथ्य के खुलासे के पश्चात कमिश्नरेट जालंधर पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है।

Video : श्री आनंदपुर साहिब में Live चोरी का वीडियो। सावधान-सतर्क रहे यह चोर आपके आसपास ही घूम रहे है।

बता दें कि नए साल वाली रात डीएसपी दलबीर सिंह अपने 3 जानकारों के साथ घर से निकले थे। देर रात डीएसपी दलबीर सिंह को उसके दोस्तों ने बस स्टैंड के पास छोड़ दिया था।

जिसके बाद से उनका कोई अतापता नहीं था। पुलिस ने बस स्टैंड के पास से कुछ सीसीटीवी अपने कब्जे में लिए हैं।

सरकारी पिस्टल भी डीएसपी के पास था मौजूद

डीएसपी घर से निकलने के दौरान अपना सरकारी पिस्टल साथ लेकर गए थे। मगर जब शव मिला तो पिस्टल उनके पास नहीं था।

डीएसपी के दोस्त रणजीत ने बताया कि मामला संदिग्ध लग रहा है, क्योंकि जहां से शव मिला वहां इतनी रात को वह इस रास्ते पर क्यों जाएंगे, वो रास्ता उनके घर की ओर जाता ही नहीं था।

साथ ही साथ डीएसपी अपना गनमैन भी घर पर ही छोड़ कर आए थे। दोस्त डीएसपी को अपनी गाड़ी में बैठाकर अपने साथ लाए थे।

डीएसपी के सिर के पिछले हिस्से में थी गंभीर चोट

मिली जानकारी के अनुसार डीएसपी दलबीर सिंह के सिर के पिछले हिस्से में गंभीर चोट थी। जिससे काफी खून बह रहा था।

डीएसपी के दोस्त रणजीत सिंह ने बताया कि सुबह उन्हें शव मिलने के बारे में पता चला था। उसके सिर और मुंह पर चोट के निशान हैं।