चुनावों में गुरु को धूल चटाने वाला चेला पहुंचा जीत का आशीर्वाद लेने, 12 साल बाद मिले धूमल-राणा

The Target News

हमीरपुर । राजवीर दीक्षित

गुरु को ही राजनीति में हराने वाले शागिर्द को आखिरकार जीत का आशीर्वाद लेने आना ही पड़ा है, मामला हिमाचल प्रदेश से जुड़ा है। साल 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में सुजानपुर सीट से राजेंद्र राणा ने प्रेम कुमार धूमल को धूल चटाई थी।

उस वक्त BJP से टिकट मिलने के बाद कांग्रेस के बागी राणा आज उन्हीं धूमल का आशीर्वाद लेने उनके घर पहुंचे है। राजेंद्र राणा ने पांव छूकर पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल का आशीर्वाद लिया।

कभी प्रेम कुमार धूमल के ही चेले रहे राजेंद्र राणा ने 2012 में इंडिपेंडेंट सुजानपुर से चुनाव लड़ा और चुनाव जीत गए। साल 2017 में कांग्रेस की टिकट पर दूसरी बार विधायक चुने गए।

एसएसपी रूपनगर के अनुसार नूरपुरबेदी में हुई वारदात में शामिल युवक काबू, देखें Video

तब भाजपा हाईकमान ने प्रेम कुमार धूमल की हमीरपुर सीट बदलकर उन्हें सुजानपुर से चुनाव लड़ाया। प्रो. प्रेम कुमार धूमल से राजेंद्र राणा की मुलाकात आज प्रदेशभर में चर्चा का कारण बनी हुई है।

प्रो. धूमल अपने ही चेले रहे राणा से चुनाव हार गए, जबकि उस दौरान भाजपा हाईकमान ने प्रेम कुमार धूमल को मुख्यमंत्री चेहरा घोषित कर रखा था।

चुनाव हारने पर जयराम ठाकुर हिमाचल के मुख्यमंत्री बने। सांसद अनुराग ठाकुर ने पिछले दिनों हिमाचल के 6 कांग्रेसी विधायको के साथ कुल 9 को भाजपा में शामिल करवाया था।