भाजपा नेता Arvind Khanna को मनी लॉड्रिंग मामले में समन, 30 जनवरी को पेश होने के लिए कहा ➡️ न्यूज Link न खुलने पर पहले 92185 89500 नम्बर को फोन में save कर लें।

18

0

Target News

चंडीगढ़ । राजवीर दीक्षित

ईडी ने भाजपा नेता अरविंद खन्ना को मनी लॉड्रिंग के मामले में समन भेजा है। अरविंद खन्ना को ईडी ने 30 जनवरी यानि कल पेश होने के लिए कहा है।

अरविंद खन्ना दो बार के विधायक और मौजूदा भाजपा सीनियर वाइस प्रेजिडेंट पंजाब यूनिट पद पर हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इससे पहले भी अरविंद खन्ना को समन जारी हो चुका है। ईडी ने उन्हें 6 जनवरी को समन भेजा था और 15 जनवरी को पेश होने के लिए कहा था। लेकिन वह ईडी के सामने पेश नहीं हुए थे।

News Fatafat: पंजाब कांग्रेस के नेता हुए आमने सामने, बजट से पहले सुक्खू सरकार पहुंचेगी अयोध्या, बी प्राक के कार्यक्रम में मंच ढहा, देखें Video  

ईडी ने कहा कि खन्ना को कथित एम्ब्रेयर भ्रष्टाचार मामले में समन जारी किया गया है। उन पर आरोप है कि 2008 में ब्राजील की कंपनी के पक्ष में डीआरडीओ के साथ तीन विमानों का सौदा करने पर 5.76 मिलियन अमेरिकी डॉलर की रिश्वत दी गई थी। ईडी ने इसी मामले में 2020 में एक चार्जशीट भी दायर की थी।

अरविंद खन्ना 2022 में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस में शामिल हो गए थे। वह कैप्टन अमरिंदर सिंह के करीबी नेताओं में एक माने जाते थे। वह पहली बार 2002 में कांग्रेस के टिकट पर संगरूर विधानसभा से चुनाव जीतकर विधायक बने थे। 2004 के लोकसभा चुनाव में वह पार्टी के उम्मीदवार थे। वह अकाली नेता सुखदेव सिंह ढींडसा से हार गए थे।

इसके बाद 2012 में उन्होंने धूरी विधानसभा हलके से चुनाव लड़ा था। एकतरफा जीत ने उनको बड़े लीडर में रूप में साबित कर दिया था। हालांकि, उस समय कांग्रेस की सरकार बनी नहीं तो उन्होंने 2 साल बाद ही विधानसभा से इस्तीफा देकर राजनीति से किनारा कर लिया था। उसी समय वह यहां अपना सारा कारोबार और संस्था को बंद कर शहर छोड़ गए थे। अरविंद खन्ना 2 साल पहले बीजेपी में शामिल हुए थे।

The Target News के Whatsapp ग्रुप में शामिल हों, फेसबुक, यू-ट्यूब, इंस्टाग्राम पर Page को Like OR Follow करें।