‘गल्लां तें बहुत ने करन वालियां वक्त आये ते करांगे’ – डर व दहशत : पूर्व विधानसभा स्पीकर को लेकर गर्माया माहौल, दलित समाज सड़कों पर, राणा के पी की शब्दावली को नही बर्दाश्त कर पा रहे लोग।

[google-translator]

The Target News

श्री आनंदपुर साहिब/ नंगल । राजवीर दीक्षित

कांग्रेस सरकार के वक्त दर्जनों के हिसाब से लोगों पर दर्ज हुए झूठे पुलिस मामलों को लेकर व विधानसभा श्री आनंदपुर साहिब में एक अलग ही दहशत का माहौल बनने के कारण लोगों ने आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार को बम्पर 48 हजार से अधिक वोटों से जिताया था।

अब एक बार फिर से पूर्व विधानसभा स्पीकर व कांग्रेसी नेता के पी एस राणा की वही पुरानी ‘गल्ला ते बहुत ने करन वालियां वक्त आये ते करांगे’ वाली शब्दावली आजकल चर्चा में है।

इस दफा उनके द्वारा राजनीतिक मंच से दिए गए एक बयान से दलित समाज के पी एस राणा के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी कर चुका है। जिसका नुकसान यकीनन लोकसभा में कांग्रेस के उम्मीदवार विजयइंद्र सिंगला को होगा।

कांग्रेस के पूर्व विधायक केपीएस राणा के कारण लोगों में फिर वही पुरानी दहशत देखी जा सकती है। अपनी दबंग छवि के साथ साथ सार्वजनिक मंचो से धमकियां देने की आदत के लिए मशहूर राणा के पी आजकल लोकसभा उम्मीदवार विजयइंद्र सिंगला को सहयोग कर रहे है।

नंगल में भिड़ गए हो गई बहस अकाली-भाजपा-AAP व कांग्रेसी बाजार में देखें Live वीडियो।

जिस तरह से उन्होंने नंगल में कांग्रेस कार्यलय में रखी गई वर्कर रैली में मौजूदा सरकार के साथ साथ बीबीएमबी व कुछ अन्य अधिकारियों को अपने शब्दों के साथ धमकाया है उसकी इलाके में खूब चर्चा हो रही है। अब इस बात का सीधा असर भी कांग्रेस के लोकसभा उम्मीदवार की चुनावी मुहिम पर यकीनन पड़ेगा।

अपने संबोधन में राणा के पी ने नंगल ‘फ्लाईओवर’ पुल को लेकर एक ब्यान दिया है और दावा किया है कि यह पुल उन्होंने बनवाया है, तो आपको बता दें, केंद्रीय प्रोजेक्ट वाली उक्त बहुकरोड़ी परियोजना की उस घटना के बारे में इलाके का बच्चा बच्चा जानता है कि उसे मौजूदा विधायक हरजोत सिंह बैंस ने शुरू करवाया है।

इस फ्लाईओवर पुल के निर्माण में 4 साल की देरी के पी एस राणा की कांग्रेस सरकार के वक्त हुई। जिसके बाद नंगल शहर का कारोबार करीब करीब खत्म होने की कगार पर पहुंच गया था। जिसकी जिम्मेवारी कांग्रेस अपने ऊपर लेने से भाग रही है।

डर व दहशत का माहौल बनने का नुकसान जहां लोकसभा चुनावों में कांग्रेस को हो रहा है। वही जिला रूपनगर में कांग्रेस 2 गुटों में बटी है। बताया जाता है कि एक धड़ा नही चाहता है कि विजयइंद्र सिंगला यहां से चुनाव जीते।

सूत्र बताते है कि सिंगला की इस इलाके में एंट्री से कुछ पुराने कांग्रेसियों का कद भी कम होगा। जिससे ऐसे हथकंडे अपनाए जा रहे है जिसका सीधा सीधा नुकसान कांग्रेसी उम्मीदवार को उठाना पड़ेगा।

श्री आनंदपुर साहिब लोकसभा में चुनावी मुहिम तेजी से गर्माने लगी है। भाजपा ने यहां से सुभाष शर्मा को,आप ने मलविंदर कंग को,अकाली दल ने प्रो प्रेम सिंह चंदूमाजरा को मैदान में उतारा है। उधर चुनाव के दौरान केपीएस राणा ने खुद पर लग रहे आरोपों को गलत भी बताया है।