प्रसिद्ध बाबा बुड्ढण शाह जी की दरगाह का मामला पुलिस स्टेशन पहुंचा, अस्थाई दुकान नगर पंचायत ने हटाई…कमेटी ने शिकायत भी दर्ज करवाई

[google-translator]

The Target News

श्री कीरतपुर साहिब । राजवीर दीक्षित

उत्तर भारत की प्रसिद्ध दरगाह साईं पीर बाबा बुड्ढण शाह जी के प्रवेश द्वार पर नगर पंचायत की जमीन में बनी अस्थाई दुकानों के साथ ही एक युवक द्वारा कोल्ड ड्रिंक बेचने के लिए बनाई गई अस्थाई फड़ी को नगर पंचायत कीरतपुर साहिब द्वारा हटाने का मामला गर्मा गया है।

पीर बाबा बुड्ढण शाह जी के खिदमतगारों तथा नौजवान के समर्थकों के बीच छिड़ा हुआ विवाद अब थाना श्री कीरतपुर साहिब में पहुंच गया है, नौजवान तथा उसके एक दो साथियों को थाना कीरतपुर साहिब की पुलिस पार्टी अपने साथ थाने ले गई है। जिसके बाद थाना थाना श्री कीरतपुर साहिब के बाहर दुकान करते नौजवान के समर्थकों ने धरना लगा दिया है।

आपको बता दे बाबा बुड्ढण शाह जी के बाहर कोल्ड ड्रिंक्स की अस्थाई दुकान के रुप में नौजवान अमरीक सिंह निवासी गांव जिओवाल ने बताया कि वह पिछले तीन साल से बाबा बुड्ढण शाह जी में अपनी दुकान चलाता था। किसी एक मामले में उसे जेल भी जाना पड़ा था। अब वह जेल से बरी होकर वापस आया तो उसकी दुकान पर कब्जा हो चुका था।

➡️ अविनाश रॉय खन्ना के Live वीडियो देखने के लिए इस लिंक को Click करें।

उसने बताया कि जब उसने कब्जा करने वाले दरगाह बाबा बुड्ढण शाह जी के एक पुजारी से पूछा तो उसने कहा कि वे दुकानों के साथ ही खाली जमीन पर अपनी दुकान बना ले, जब उसने अपनी ठंडे की अस्थाई दुकान बना ली तथा कुछ दिन पहले वहां टीन भी डाल ती तो नगर पंचायत ने उसकी टीनें उठा ली। उक्त नौजवान ने कहा कि अब उक्त दरगाह के सभी पुजारी और प्रशासन उसके साथ धक्का कर रहे हैं।

दोनों पक्षों के बीच हुई बहस के बाद माहौल हुआ खराब

इस मौके पर उस वक्त माहौल खराब हो गया जब दरगाह बाबा बुड्ढण शाह के खिदमतगारों और समर्थकों तथा दूसरे युवक के पक्ष में आये युवकों के बीच बहस हो गयी। माहौल को खराब होता देख सूचना मिलने के बाद थाना प्रभारी कीरतपुर साहिब की पुलिस मौके पर पहुंच गई जिसके द्वारा मौके से दो युवकों को हिरासत में लेकर थाने ले जाया गया।

क्या कहते हैं दरगाह के महंत मोहतमिम

इस मौके पर दरगाह बाबा बुड्ढण शाह जी के महंत मोहतमिम बाबा दिलबाग मुहम्मद शाह एवं सह मोहतमिम, खिदमतगारों ने कहा कि उक्त नौजवान ने सिर्फ बैसाखी हेतु स्थान मांगा था तथा उनके द्वारा उसे उक्त फड़ी लगाने की आज्ञा दे दी गई थी, पर उक्त नौजवान द्वारा उक्त स्थान पर बिना किसी से पूछे टीनें डाल ली गईं तथा धक्के से कब्जा करने लग पड़ा। जिसके बाद उन्होंने नगर पंचायत से कहा, जिस पर नगर पंचायत अधिकारी, नगर पंचायत पार्षद जसविंदर कौर की मौजूदगी में उक्त युवक का सामान उठा कर ले गए।

उन्होंने बताया कि उक्त युवक के खिलाफ धमकी देने व गाली-गलौज करने के आरोप में कीरतपुर साहिब थाने में उनके द्वारा लिखित दर्खास्त भी दी गई है। इस मौके पर बाबा दिलबाग मुहम्मद शाह ने कहा कि दरगाह बाबा बुड्ढण शाहजी के लिंक रोड के आसपास अवैध कब्जे बढ़ गए हैं, इन कब्जों के कारण लोगों का लिंक रोड पर आना-जाना मुश्किल हो गया है। हमारी डिप्टी कमिश्नर रूपनगर से पुरजोर मांग है कि बाबा बुड्ढण रोड के किनारों से अवैध कब्जे हटाए जाएं।

नौजवान के पक्ष में थाने के बाहर धरना

उधर, उक्त नौजवान के साथियों द्वारा नौजवान को हिरासत में लेने पर पुलिस स्टेशन श्री कीरतपुर साहिब के बाहर धरना शुरु कर दिया गया। इस मौके पर धरना दे रहे बलवीर सिंह वीर कार्यकारी अध्यक्ष ट्रक सोसायटी, किरती किसान यूनियन के अध्यक्ष नाजर सिंह शाहपुर, जसपाल सिंह, गुरबिंदर सिंह, जीवन सैनी, अजीत सिंह आदि ने कहा कि माल विभाग के रिकार्ड में दरगाह बाबा बुड्ढण शाह जी के नाम दो कनाल आठ मरले जमीन दर्ज है तथा आसपास नगर पंचायत की जमीन, दरगाह के पुजारियों द्वारा नगर पंचायत की जमीन पर कब्जा करके वहां दुकानें बनाई हुई हैं।

जिसका वह महीने का 30 से 35 हजार रुपये प्रति दुकान का दुकानदारों से किराया वसूल रहे हैं। उन्होंने कहा कि नगर पंचायत अपनी जमीन पर बनी दुकानों को हटाये या उनसे किराया वसूले।

नगर पंचायत को 20 लाख रुपये सालाना ठेका देने को तैयार-गुरबिंदर सिंह

इस मौके पर ठेकेदार गुरविंदर सिंह ने कहा कि दरगाह बाबा बुड्ढण शाह जी की दो कनाल आठ मरला जमीन को छोडक़र नगर पंचायत की वह जमीन, जिसमें अवैध कब्जाधारियों ने दुकानें बना ली हैं, उसे 20 लाख रुपये सालाना ठेके पर लेने की तैयारी है।

जहां वह आगे दुकानें किराये पर देगा। बताया कि इससे नगर पंचायत की आय बढ़ेगी और स्थानीय लोगों को काम भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि उन्होंने गुरुद्वारा बाबा गुरदित्ता जी के बाहर शिरोमणि कमेटी की जमीन सालाना लीज पर ली है, जहां पर आरजी दुकानें बनाई जा रही हैं और सामान बेचा जा रहा है।

क्या कहते हैं थाना प्रमुख

इस मौके पर कीरतपुर साहिब पुलिस स्टेशन के एसएचओ जतिन कपूर ने कहा कि दरगाह के मुख्य प्रबंधक बाबा दिलबाग शाह ने उन्हें फोन पर बताया कि कुछ युवक दरगाह के बाहर माहौल खराब कर रहे हैं, वे हमें भी गाली गलौज कर रहे हैं, जिससे संगत को भी परेशानी हो रही है। जिसके बाद वह मौके पर गए थे तथा दो नौजवानों को थाने ले आए।

बाद में थाने आकर दरगाह के मुख्य प्रबंधक तथा समूह पुजारियों द्वारा एक लिखित दर्खास्त भी दी गई है। उनके द्वारा दोनों पक्षों को आपस में बैठ कर बातचीत करने को कहा गया था। उन्होंने कहा कि नगर पंचायत द्वारा कब्जे हटाने के लिए उनसे कोई सुरक्षा नहीं मांगी गई तथा न ही उनके द्वारा किसे के खिलाफ दर्खास्त दी गई है। उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद अगली कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

क्या कहना है नगर पंचायत के ईओ का

इस बारे में जब नगर पंचायत कीरतपुर साहिब के ईओ रवनीत सिंह के साथ बात की गई तो उन्होंने कहा कि अवैध अतिक्रमण के बारे में उन्हें उच्च अधिकारियों की हिदायतें आई हुई थीं, परसों भी उनके द्वारा उक्त नौजवान का कब्जा हटाया गया था, पर पुन: उसने सामान रख लिया।

आज फिर नगर पंचायत ने उसका अवैध कब्जा हटा दिया है। उन्होंने कहा कि बाकी कब्जों का कोर्ट केस चल रहा है, जिसका फैसला आना बाकी है। उन्होंने कहा कि चुनाव संहिता खत्म होने के बाद कब्जों के खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा।