मुश्किल में IAS परमपाल कौर, इस्तीफा बीजेपी द्वारा स्वीकार किए जाने के बाद पंजाब सरकार ने जारी किए सख्त आदेश

[google-translator]

The Target News

चंडीगढ़ । राजवीर दीक्षित

आई.ए.एस. पद से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हुईं परमपाल कौर सिद्धू को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है।

लोकसभा चुनाव के दौरान उन्हें बठिंडा से अपना उम्मीदवार घोषित किया गया है। जानकारी के मुताबिक पंजाब सरकार ने उनका इस्तीफा स्वीकार करने से इनकार कर दिया है।

गौरतलब है कि वह अकाली दल के वरिष्ठ नेता सिकंदर सिंह मलूका की बहू हैं और हाल ही में उन्होंने आईएएस पद से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल होने का फैसला किया है। पार्टी ने बठिंडा सीट से भी टिकट दिया है।

Video: नंगल में शिअद प्रत्याशी प्रो. प्रेम सिंह चंदूमाजरा के पहुंचने पर सर्कल प्रधान गुरदीप सिंह बावा ने अपने समर्थकों के साथ स्वागत किया।

केंद्र सरकार ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया था लेकिन पंजाब सरकार ने उनका इस्तीफा स्वीकार करने से इनकार कर दिया है।

पंजाब सरकार ने उन्हें नोटिस जारी कर तुरंत ड्यूटी पर तैनात होने का निर्देश दिया है। जानकारी के मुताबिक, पंजाब सरकार द्वारा उनका इस्तीफा नामंजूर करने की वजह इस्तीफे का तरीका गलत होना बताया गया है।

आपको बता दें कि हाल ही में केंद्र सरकार ने आई.ए.एस. अधिकारी परमपाल कौर का इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया और इस संबंधी केंद्र सरकार की ओर से पंजाब सरकार को पत्र भी लिखा गया। पत्र में कहा गया है कि परमपाल कौर का इस्तीफा अखिल भारतीय सेवा नियमावली के नियम तहत स्वीकार कर लिया गया है। ये नियम केंद्र सरकार द्वारा उन आईएएस अधिकारियों पर लागू होता है, अथवा उन अधिकारियों के इस्तीफे स्वीकार करने की शक्ति देता है जिनके इस्तीफे राज्य सरकारें स्वीकार नहीं करती है।