AAP ने मांगी रैली की परमिशन अफसर ने मंजूरी रिजेक्ट कर लिख दी गाली, और पोर्न स्टार की डाल दी फोटो, गवर्नर ने SDM को सस्पेंड किया।

[google-translator]

The Target News

चंडीगढ़ । राजवीर दीक्षित

लोकसभा चुनावों में अजब गजब मामले सामने आ रहे है। खबर हरियाणा से है यहां गवर्नर ने कैथल के असिस्टेंट रिटर्निंग अफसर (ARO) एसडीएम ब्रह्मप्रकाश को सस्पेंड कर दिया है।

यह कार्रवाई उनकी ID से आम आदमी पार्टी (AAP) की 2 रैलियों की परमिशन में अभद्र भाषा के इस्तेमाल को लेकर की गई है। AAP ने कैथल में रैलियों की अनुमति के लिए चुनाव आयोग के ईएनसीओआरई (एनकोर) पोर्टल पर आवेदन किया था।

दिल्ली रैली में पहुंचे हरजोत सिंह बैंस का भाजपा व ईडी को लेकर बड़ा बयान सामने आया, देखें Video

इन आवेदनों को असिस्टेंट रिटर्निंग ऑफिसर (ARO) ब्रह्मप्रकाश की ID से रिजेक्ट कर दिया गया और रिजेक्शन के कारण में हरियाणवी शब्द कोनी देंदे (नहीं देंगे) और आपत्तिजनक शब्द (मां की गालियां) लिख दी।

इतना ही नहीं रिमार्क के ऑप्शन में रिजेक्शन लेटर की बजाय पोर्न स्टार मियां खलीफा का फोटो अपलोड कर दिया गया।

इस घटना में ARO एसडीएम ब्रह्म प्रकाश ने पोर्टल का काम देख रहे 4 कम्प्यूटर ऑपरेटर सुभाष कुमार, राम निवास, ललित कुमार व प्रकाश सिंह और एक जूनियर प्रोग्रामर प्रदीप कुमार को सस्पेंड कर दिया था। जिसके बाद इस बारे में पुलिस को शिकायत की गई थी।

हालांकि चुनाव से जुड़ी महत्वपूर्ण काम में इस तरह की लापरवाही को देखते हुए गवर्नर ने एसडीएम पर भी कार्रवाई कर दी और उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है।

आपको बता दे लोकसभा चुनाव में राजनीतिक दलों को कोई भी रैली या सभा का आयोजन करने से पहले जिला प्रशासन से इसकी ऑनलाइन अनुमति लेनी होती है। इसके लिए चुनाव आयोग ने एनकोर वेबसाइट भी लॉन्च की है।

उधर इस मामले में AAP के वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष अनुराग ढांडा ने कहा कि ये देश के लोकतांत्रिक इतिहास में एक काला अध्याय है।

आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार डॉ. सुशील गुप्ता के कार्यक्रम की परमिशन मांगने पर चुनाव आयोग ने कार्यक्रम की परमिशन भी रद्द कर दी और भद्दी गालियां भी लिख दी गईं।