हादसा : पंजाब में पुलिस कमिश्नर व उनके गनमैन की जिंदा जलाने से कैसे हुई मौत।

[google-translator]

The Target News

लुधियाना । राजवीर दीक्षित

पंजाब के लुधियाना में गांव दियालपुरा के पास फ्लाईओवर पर देर रात 1 बजे भयानक सड़क हादसा हुआ। जिसमें फॉर्च्यूनर कार में सवार ACP और उनके गनमैन की मौत हो गई।

जबकि एक ड्राइवर पुलिस कर्मचारी गंभीर रूप से घायल है। मृतक एसीपी की पहचान संदीप और गनमैन परमजोत के रूप में हुई है। घायल ड्राइवर गुरप्रीत सिंह की हालत गंभीर बनी हुई है।

डीएमसी अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने दोनों को मृतक करार दे दिया। संदीप लुधियाना से पहले संगरूर में तैनात थे। संदीप 2016 बैच के PPS अफसर थे। 4 अप्रैल को ही उन्होंने अपना बर्थडे बनाया था। उनका ढाई साल का बेटा है। वह मोहाली के रहने वाले थे।

दोनों कारों की टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों कारें डिवाइडर से टकराईं। एसीपी संदीप जिस कार में सवार थे, उसमें अचानक आग लग गई। ड्राइवर और गनमैन सहित उन्हें खुद बाहर निकलने का मौका तक नहीं मिला। लोगों की मदद से उन्हें बाहर निकाला गया। कुछ लोगों ने मौके की वीडियो भी बनाई।

ऊना-नंगल-चंडीगढ़ मार्ग पर नशे में धुत्त ड्राइवर ने तोड़ दिया चौक, बड़ा हादसा सामने आया। देखें Video

PPSC के जरिए संदीप सिंह की DSP भर्ती हुए थे। उनकी पहली पोस्टिंग फरवरी 2019 में बतौर एसीपी ट्रैफिक लुधियाना हुई थी। इससे पहले वह फतेहगढ़ साहिब और अमलोह में भी बतौर एसएचओ रहे थे।

एसीपी की फॉर्च्यूनर गाड़ी नंबर पीबी 10- GX 2800 में सवार थे। सामने से एक स्कॉर्पियो गाड़ी नंबर पीबी 23- Y9613 ने टक्कर मारी है। फिलहाल पुलिस ने IPC की धारा 279/337/304A/427 के तहत पुलिस स्टेशन समराला में मामला दर्ज कर रहे हैं।

समराला के सिविल हॉस्पिटल में तैनात डॉक्टर मनप्रीत कौर ने कहा कि देर रात तीन लोगों को हॉस्पिटल लाया गया। ACP संदीप सिंह और उनके गनमैन परमजोत को मौके पर ही मौत हो गई थी। ड्राइवर HC गुरप्रीत सिंह गंभीर रूप से घायल था। जिसे तुरंत लुधियाना रेफर किया गया।